Thursday, August 09, 2018

Apple Is The First Only One 1000 Trillion Doller Company

Apple बनी पहली  1,000 अरब डॉलर की कंपनी:-
Apple Is The First Only One 1000 Trillion Doller Company
APPLE 1000 TRILLION DOLLER COMPANY

APPLE को अब तक की सबसे SUCESSFULL COMPANY कहा जा रहा है.ये WORLD की पहली हज़ार अरब (ONE TRILLION DOLLER की PRIVATE COMPANY  बन गई
लेकिन एप्पल ने ये सब किया कैसे? :-
यहाँ चार ऐसी चीजों पर हम नजर डालेंगे जिनकी मदद से APPLE  ने ये बड़ी SUCCESS 
हासिल की

 1 .STEVE JOBS  - अपने आप में एक BRAND  :-
STEVE  JOBS  की पहचान न सिर्फ़APPLE  के सहसंस्थापक के रूप में है, बल्कि उन्हें Technology  की World  का सबसे बडा नाम भी माना जाता है.

  1. उन्होंने Apple  को Technic  की दुनिया की उस क्रांति का Part बनाया, जिसका AIM आम लोगों के हाथ में TECHNOLOGY पहुँचाना था. 
  2. फिर बात चाहें IPOD  की हो या IPAD  की.
  3.  लेकिन MORDEN WORLD  के पहले औपचारिक CEO  (कंपनी के मुख्य अधिकारी) में  से एक के तौर पर पहचान मिलने के बाद, वो खुद ही एक BRAND बन गये.
  4.  STEVE JOBS ने STEVE WORJINES  के साथ मिलकर साल 1976 में APPLE COMPANY की स्थापना की थी. तब से कैलिफ़ॉर्निया स्थित इस COMPANY को महान चीजें तैयार करने वाली एकCOMPANY  के तौर पर देखा गया |
  5.  साल 1980 में APPLE  के शेयर की डिमांड बहुत ज़्यादा बढ़ गयी. कहा जाने लगा कि साल 1956 में FORD COMPANY के शेयर की ऐसी डिमांड थी.
  6.  उसके बाद सिर्फ़ APPLE COMPAN के शेयर की उतनी डिमांड हुई लेकिन साल 1985 में कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव जॉन स्कली से उनका विवाद हो गया और इस विवाद के कारण उन्हेंCOMPANY छोड़नी पड़ी. 
  7. हालांकि 12 साल बादयानी साल 1997 में नुकसान में चल रही APPLE COMPANY  ने STEVE JOBS  को वापस लौटने का PROPOSAL दिया.
  8.  उन्होंने COMPANY में लौटते ही विभिन्न परियोजनाओं को रद्द कर दिया और एक NEW PROJECT  शुरू किया जिसका नाम थाथिंक डिफेंटयानी कुछ नया सोचिए. 
  9. इसी PROJECT  के तहतAPPLE  ने अपने नएPRODUCTION  को तैयार करना शुरू किया. माना जाता है कि इससे कंपनी के EMPLOYEE का मनोबल एक तरह से पुनर्जीवित हो गया औरAPPLE  जल्दी ही मुनाफे की स्थिति में लौट आई साल 2011 में जबSTEVE JOBS  का DEATH हुआ तो AMERICA  के तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि दुनिया ने एक दूरदर्शी शख्स को खो दिया है.
  10.  ये भी कहा गया कि STEVE JOBS  के बाद 'APPLE COMPANY , वैसे नहीं रह जायेगी.

2.आईफ़ोन एक क्रांति :-

साल 2007 में COMPANY  ने IPHONE  लॉन्च किया था. MORDEN MOBILE TECHNOLOGY पर IPHONE  का प्रभाव अब तक बेजोड़ और निर्विवाद रहा है. कंपनी के अनुसार, LAUNCH होने के पहले साल में ही 1 करोड़ 40 लाख IPHONE बेचे गये थे.

  1.  NOKIA  और BLACKBERRY,जैसी COMPANY के उत्पाद उस वक़्त बाज़ार पर हावी थे और इन्हें IPHONE  का बड़ा प्रतिद्वंद्वी माना जा रहा था.
  2.  लेकिन जल्द ही IPHONE ने इन्हें हरा दिया.
  3.  हाल ही में आई रिपोर्टों के अनुसार, अगर दुनिया के सबसे बड़ेSMARTPHONE निर्माताओं की बात करें तो SOUTH KORIEA  की COMPANY SAMSUNG  और CHINA  की कंपनी HUWAI  के बाद APPLE  तीसरे स्थान पर है. 
  4. लेकिन आज भी IPHONE की दुनिया भर में मज़बूत डिमांड बनी हुई हैAPPLE ने पिछले साल दुनिया भर में 21.6 करोड़ IPHONE  बेचे थे. ।
  5.  IPHONE KI ही वो उत्पाद है जिसकी बदौलत आजAPPLE COMPANY  की क़रीब 50 फ़ीसदी । आमदनी होती है. हालिया तिमाही में 56 फीसदी कमाई APPLE  नेIPHONE  की बिक्री से की है. 
  6. APPLE  के FUTURE  के लिए IPHONE  सबसे अधिक महत्वपूर्ण है और फिलहाल बाज़ार को उनकी सर्वोत्तम पेशकश भी.
3.Apple की Services और Brand पर भरोसा :-

APPLE की SERVICES की अगर बात करें तो ITUNE  याAPPLE MUSIC  APPLE APP STORE, ICLOUD  और APPLE PLAY  इनमें शामिल हैं. । ये सभी APPLE की कमाई का एक बड़ा जरिया है. अप्रैल से लेकर जून 2018 के बीच APPLE  की सेवाओं से आने वाली कमाई में 31 फीसदी वृद्धि हुई.जानकार मानते हैं कि IPHONE अगरAPPLE की पहचान है तो उसके साथ मिलने वालीसेवाएं, जैसेAPPLE MUSIC  लोगों मेंBRAND प्रति वफादारी को बढ़ाने में मदद करती हैं.माना जाता है कि कोई ग्राहक अगर IPHONE को खरीदता है और यूज़ करके उसे पसंद करता है तो कंपनी के अन्य उत्पादों, जैसे IPAD , MACBOOK  और IWATECH की बिक्री में वृद्धि होती है. बाजार का विश्लेषण करने वाले, BRAND-MOTORS COMPANY  के प्रबंध निदेशक पॉल नेल्सन कहते हैं, "ये वित्तीय प्रतिभा का ही नमूना है जो कंपनी के भीतर बैठे लोगों में है. वो उपभोक्ताओं कोCOMPANY का HARDWARE  खरीदने के लिए प्रेरित करने में सफल साबित हुए। वो कहते हैं, "मजबूत ब्रांड के पास ऐसे ग्राहक होते हैं जो बाज़ार में मौजूद विकल्पों में रुचि नहीं रखते हैं. वो कहीं और देखते ही नहीं. APPLE  के पास भी ये ताक़त है. तथ्य बताते हैं कि APPLE के पास वफ़ादार ग्राहकों का एक बहुत बड़ा हिस्सा है."

4.चीन और विकास  :-
दुनिया के सबसे बड़े स्मार्टफोन बाजार चीन के बिना APPLE  की सफलता की ये कहानी
काफ़ी Different दिखाई देगी.Apple के मुनाफे का लगभग One Fourth  Part अकेले चलने से ही आता है. इसके अलावा, APPLE  अपने अधिकांश IPHONE  का निर्माण SOUTH CHAINA के शेनज़ेनशहर में करता है.हालांकि कंपनी ने मार्च 2016 से लेकर जुलाई 2018 के बीच CHINA  से आने वालेराजस्व में भारी गिरावट देखी. लेकिन COMPANY  ने अब इस स्थिति में सुधार कर लिया है.जानकार कहते हैं कि चीन के Medium class  लोग अब IPHONE  को ज़्यादा पसंद करनेलगे हैं. चीन के Medium class  परिवारों में Iphone  होना, Status and Fame की एकनिशानी मानी जाती है. ।इसलिए Cheaf domastic brand  की कड़ी प्रतिस्पर्धा के बावजूद apple ने चीन में अपनीस्थिति में तेजी से सुधार किया है. आज,brand के तौर पर apple फ़ॉर्स किसी कंपनी के वित्तीय नंबर देखकर उसकी brand value (कंपनी का मूल्य) तय करती है. उसकी सूची के अनुसार, पिछले eight  years  से apple  ने सबसे pricefull brand के तौर पर अपनी जगह FIX  की हुई है. इस List  के मुताबिक, इस साल Apple  की क़ीमत 182.8 अरब Doller रही. Apple की कीमत आज एक समयWorld में America की सबसे Biggest company  रही coca-cola  की तुलना में करीब तीन गुना ज्यादा है. 17th rears की शुरुआत से पहले पैदा हुए लोगों के लिए जितना मुश्किल coca-cola  bransके बिना हमारे Market की कल्पना करना होगा, उतना ही मुश्किल 21वीं शताब्दी में पैदा हुए लोगों के लिए एप्पल ब्रांड के बिना किसी Marketकी कल्पना करना है.

No comments:

Post a Comment

Featured Post

Incognito Mode /incognito mode android Kya Hai Aur Yah Kaise Kam Karta Hai

incognito mode kya hai? Incognito Mode /incognito mode android kaise kaam karta hai? browser me Incognito Mode /incognito mode android enab...