Thursday, August 16, 2018

What is Affiliate marketing ? Google Adsense V/S Affiliate Marketing in dono me accha kon hai?

What is Affiliate marketing? Google Adsense V/S Affiliate Marketing in dono me accha kon hai?

Blog ,YouTube and Website ऑनलाइन इंटरनेट से Earning करने का गूगल Adsense और Affiliate marketing एक टॉप level पर अपना मुकाम पंहुचा चूका है। देश और दुनिया से जुरे वह हर लोग जो इंटरनेट को अच्छी तरह से जानते है वह सभी लोग इनके जरिये जुड़े है और ऑनलाइन इंटरनेट की दुनिया से पैसे कमा रहे है।
What is Affiliate marketing ? Google Adsense V/S Affiliate Marketing in dono me accha kon hai?
Google Adsense V/S Affiliate Marketing
 चलिए चलते  है Affiliate Marketing और Google Adsense के बारे में थोड़ी जानकरी लेने और इनके बीच किया अंतर है और उसे बिस्तर से समझते है।
            हलाकि बहुत से लोग को इंटरनेट से पैसे कमाने की बात फेक लगती है लकिन बहुत से ब्लॉगर और youtuber आज के टाइम में ऐसे है जो आज इंटरनेट के माध्यम से पैसे कमा रहे है। यह बात लग है की बहुत से लोगो को इनमे sucess नहीं मिलती है। लकिन जो पैसे कमा रहे है वो जरूर सोचते होंगे की।




  • Adsense  and Affiliate Marketing में किया बेस्ट है। 
  • Affiliate Marketing  और Google Adsense में क्या अंतर है। 
  • Google Adsense के फाईदे और नुकसान [Pros. And Cons. ]
  • Affiliate Marketing  के फायदे और निकसान [Pros. And Cons. ]
  • दोनों में ज्यादा किस्मे इनकम हो सकता है ? 
इन सभी से related Questions का Answer आपको इस पोस्ट में मिलजाएँगे 

What is Affiliate marketing? Google Adsense V/S Affiliate Marketing in dono me accha kon hai? COMPLETE GUIDE IN HINDI    
में आपलोगो को Google Adsense  और Affiliate Marketing के फायदे [ PROS. ] और निकसान [KONS. ] दोनों के बारे में Details से बताऊँगा आपको पोस्ट पड़ने के बाद आसानी से समझ में आ जाएगा की इनदोनो  Google Adsense और Affiliate marketing में किया अंतर है। 
1)Affiliate Marketing  -A Quick Overview इन हिंदी। 

  • Google Adsense से बिलकुल opposite कुछ companies अपनी खुद की official website के द्वारा Affiliate Program और referral program services ऑफर करते है। जिसमे पब्लिशर को उनके प्रोडक्ट को promote करना होता है और बदले में उन्हें कुछ commission  मिलता है। 
  • ये कमीशन $5 से लेकर $5000  या इससे भी ज़्यादा हो सकता है। Amazon, Clickbank , Wordpress Theme, Web Hosting Providers, Plugins इनके सबके लिए affiliate program available है। आप अपनी साइट कॉन्टेक्ट के हिसाब से Affiliate Product को select कर सकते है। 
  •   जब कोई user को promote की गई link पर क्लिक कर प्रोडक्ट buy करेंगे तो आपको कमीशन मिलेंगे और एक लिमिट के बाद आप पाटमेंट ले सकते है। 
  • आपको जिस company के product को promote कर पैसे कामना है आप उनके नाम का सामने Affiliate " COMPANY NAME AFFILIATE " लिख कर Google search करोगे तो उसकी Affiliate services वाले पेज का लिंक मिल जाएगा। affiliate Marketing एक प्रोफेशनल ब्लॉगर ,एक्सपर्ट ब्लॉगर के लिए सबसे अच्छा तरीका है। अपने ब्लॉग से पैसा लकामने का ,लकिन आप उतना ही एअर्निंग केर पाएंगे जितना आपको एक्सपीरियंस होगा. 
  • एक नई ब्लॉगर ले लिए एफिलिएट मार्केटिंग में सुसस्स होना इतना आसान नहीं है ,आपको कुछ टाइम और रेसेअरचिंग की जरुरत होगी अन्यथा आप फ़ैल हो जाओगे।  
 i )Affiliate Marketing ke Pros[Affiliate Marketing यूज़ करने के फायदे 
  1. आप अपने niche के हिसाब से जो आपको पसंद हो वो ads choose कर सकते है। 
  2. आपका जितना ज्यादा सेल्ल होगा ads उतनी ही इनकम होगी ,इसमें सेल्स की इनकम काम ज्यादा नहीं होती सो आप easily सील के हिसाब से earning केर सकते है। 
  3. इनकम extensive होगी और ये आपको कई सालो तक पाय करता रहेगा। आप इसे लॉन्ग टर्म मनी मेकिंग सोर्स कह सकते है। 
  4. आपको $5 doller से $5000 डॉलर तक का कमीशन देने वाले प्रोवाइडर मिल जायेंगे लेकिन आपको अपनी ऑडियंस लेवल का ख्याल रखना होगा। 
  5. आपकी साइट ब्लॉग पर काम ट्रैफिक से भी ज्यादा इनकम जा सकता है। 
  6. आपको काम टाइम में ज्यादा earning करने का Affiliate Marketing बेस्ट रास्ता है। 
  7. इनकम साइट traffice नहीं यूजर ट्रस्ट लेवल पर depend करता है। जितने लोग आप पर ट्रस्ट करेंगे उतनी सेल्ल मिलेंगी। 
  8. सबसे ज़्यादा फायदा कोई भी आपको कोई भी बंद नहीं करवा सकता है ,आप अपनी मर्ज़ी से साइट को monetize कर सकते है।  
ii )Affiliate Marketing ke Cons [Affiliate marketing यूज़ करने के नुक्सान 
  1. एफिलिएट मार्केटिंग में सफल होने के लिए मार्केटिंग knowledge होना जरुरी है। 
  2. आपके पास targeted एंड trusted ट्रैफिक होने चाहिए 
  3. आप अगले दिन शामे earning नहीं केर सकते है ,एक दिन में १ लाख डॉलर कमा लो और हो सकता है १ दिन में एक डॉलर भी कमा नहीं पाऊ यह सिर्फ आपके audience traffic पर depend करता है। 
  4. Earning sell  होने पर सिर्फ क्लिक होने से कुछ नहीं मिलेंगे. 
  5. आप अपने रीडर के साथ ट्रस्ट relation को बनाये रखने के लिए आपको केवल बेहतर प्रोडक्ट को प्रमोट करना होगा। 
                                                    ये सच है की आप Affiliate Marketing से हर दिन एक जैसी earning नहीं केर सकते लकिन Adsense की तुलना में आप इससे ज्यादा उम्मीद कर सकते है ,आप १ दिन में कई हज़ार डॉलर कमा सकते हो। 
2)Google Adsense -A Quick Overview इन हिंदी। 
  • Google Adsense एक advertising प्रोग्राम है जिसे गूगल ने बनाया है। Adsense से आप अपनी साइट पर content एंड audience targeted मीडिया advertisement दिखाया ,video ,and interactive media advertisement display कर सकता है। ऑनलाइन earning मरने में गूगल adsense सबसे ज्यादा famous और सबसे ज्यादा उसे होने वाला animadverting program है। Adsense earning करने के लिए आपको adsense account बना कर अपनी साइट पर ads लगाने है और आपकी एअर्निंग स्टार्ट हो जतएगी। 
  • आप अपनी वेबसाइट पर साइड बार widget ,layout ,post ,content area हो। लकिन ads placement करते समय आपको adsense policy follow करनी होगी। 
  • Google को बहुत सी कम्पनीज अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करने के लिये  ads  प्रोवाइड करती है और google को उन advertisement से जो कमीशन मिलता है उसका 68 %गूगल publiser के साथ शेयर कर देता है। 
  • Google जितना ज्यादा ads provide करता है की आपके साइट पर किसी भी टाइप का कंटेंट हो उसके लिए ads मिल जाता है। गूगल इसका ख्याल रखेगी की इसके लिए Publisher को कुछ करने की जरुरत नहीं होती है। 
  • इसलिए ,Newly में Google Adsense पैसे कमाने का बहुत ही अच्छा तरीका है। आप starting में बिना किसिस knowledge  के इसकी हेल्प से अपने ब्लॉग पे माध्यम से अच्छी Earning कर सकते हो। 
i)Google Adsense  ke Pros [Google Adsense यूज़ करने के फायदे ]
  1. Google Adsense pay per click पर काम करता है ,आप जितना क्लिक करोगे उतना पैसे आपके अकाउंट में ऐड होने लगेंगे। 
  2. Best selling Product पर रिसर्च करने की जरूरत नहीं है ,google ये सब खुद कण्ट्रोल कर लेता है। 
  3. किसी भी प्रोडक्ट को सलेल करने की जरुरत नहीं। readers को interested अड़ पर क्लिक करने से पैसे मिलेंगे।
  4. कोई भी यूजर गूगल adsense के लिए apply कर सकता है बस उनके पास अपनी साइट होनी चाहिए 
  5. आप ads impression के खिलाप कमा सकते है। 
  6. आपके readers को उनके interest  के हिसाब से ads दिखाए जाएंगे। 
  7. आपको बस अपने ब्लॉग में content लिखना और अधिक traffic लाने की जरुरत है। जितनी traffic होगी आपके साइट पर उतनी income होगी। 

ii)Google Adsense  ke Cons [Google Adsense यूज़ करने के नुकसान ]
  1. Adsense ads से साइट की स्पीड बहुत ही स्लो हो जाती है। 
  2. आप niche product आप  choose नहीं कर सकते है। 
  3. Google आपको policy violation करने पर banned कर सकते है। 
  4. आप एरिया ads नेटवर्क उसे नहीं केर सकते है google आपको allow ही नहीं करेगा। 
  5. आपको कोई ईमेल सपोर्ट नहीं मिलेगा। 
  6. policy violation करने पर अप्प्रोवे मिलना मुश्किल है। 
  7. Adsense आपके audience को डिस्टर्ब केर सकता है।  
Affiliate Maketing & Google Adsense दोनों में अंतर क्या है ?
  1. Affiliate Marketing में हर बार प्रोडक्ट के लिए affiliye program ज्वाइन करना होता है लकिन Google Adsense पर सिर्फ एक बार ही account बनाना परता है। 
  2. Affiliate Marketing में affiliate program के सेलपर इनकम होता है लकिन Google Adsense Per Click पर पे करता है। 
  3. Affiliate Marketing में इनकम direct bank अकाउंट से नहीं केर सकते है इश्क अलग method होता है और Google Adsense का डायरेक्ट इनकम bank account से recieve कर सकते है। 
  4. Affiliate Marketing में प्रोडक्ट को प्रमोट करना होता है लकिन Google Adsense से auto ads इनकम होती है। 
  5. Affiliate Marketing में लो traffice में इनकम केर सकते है लकिन Google Adsense से लौ ट्रफ़फ़िके में इनकम नहीं केर सकते है। 
  6. Affiliate Marketing के लिए tragative traffice होना चाहिए और Google Adsense के लिए organic traffice होनी चाहिए। 
  7. Affiliate Marketing के लिए यूजर ट्रस्ट बहुत ज्यादा होना चाहिए लेकिन Google Adsense के लिए ट्रैफिक होना बहुत जरुरी होता है। 
  8. Affiliate Marketing  में manually कंटेंट ले लिए ads सर्च करना होता है और Google Adsense के साइट के हर कंटेंट के अनुसार ads दिखता है। 
  9.  Affiliate Marketing और Google Adsense  यह दोनों में काफी अंतर है और साथ साथ दोनों में काफी फायदे और नुक्सान भी है। इसलिए आपको कोण सा बेस्ट लगता है यह आपको चुनना है। 
SUMMARY :-अगर आप newly ब्लॉगर है और कुछ समय पहले ही blogging को शुरू किये है तो आपके GOOGLE ADSENSE के POLICY को करना ही होगा। अगर आप काफी समय से ब्लॉग्गिंग कर रहे है और ब्लॉग्गिंग का कुछ अच्छा एक्सपीरियंस भी रखते है तो आपको AFFILIATE MARKETING STUDY कर इसका इस्तमाल करे। 
                          



No comments:

Post a Comment

Featured Post

Does Artificial Intelligence Mean SEO is Dead?

Does Artificial Intelligence Mean SEO is Dead? SEO is currently changing and shifting thanks to things like Artificial Intelligence ...