Tuesday, August 21, 2018

What is CDN (Content Delivery Network )? Why is important for website blog?

 What is CDN (Content Delivery Network )? Why is important for website blog?

जब भी कोई website blog के speed को बढ़ाने की बात करते है तो उसमे content delivery network यानी CDN का नाम जरूर आता है। Mostly नया blogger को CDN के बारे में जानकारी कम होती है। इसलिए उनको इस



What is CDN (Content Delivery Network )? Why is important for website blog?
Content Delivery Network 
के बारे में कुछ भी समझ में  नहीं आता है। अगर आपके साथ भी ऐसा है तो चलिए आज इस POST में आपको इसके बारे में DETAILS से बता  रहा हु।
                                                                                  Actually CDN आपकी साइट को फ़ास्ट लोडिंग करवाने के Most important अच्छी तरीके में से एक है वो लोग जिन्हे इसके बारे में technical information होती है और वो  जानते है की इसे use करने के क्या फायदे है jabki site के लिए कोई न कोई content delivery network उसे use  करता है और न website speed checker tool GTmetrix ,Pingdom ,Google pagespeed  और सभी content delivery नेटवर्क use करने की advice देते है।
                                                                             इस पोस्ट में इस Hindi  Tutorial में आपको CDN के बारे में कुछ बताने जरुरी हैऔर इसका इस्तेमाल क्यों करना चाहिए।

1) CDN [Content Delivery Network ]क्या है ?

इसे हिंदी में  बहुत ही मुश्किल है लकिन में इसे हिंदी में समझने की कोशिश करूंगा। और आपको इसकी proper knowledge दे पाऊँगा। CDN geographical dispersed servers का एक network है। इस edge servers भी कहते है। यह आपकी साइट के static content jaise images ,CSS /JS  Files एंड structural components हर एक फाइल का साइज को कैच कर कम करता है।
Content delivery network का Data Server अलग अलग लोकेशन पर होती है। जब कोई यूजर आपके साइट को open करता है तो उसकी request CDN network user का सबसे नजदीक data server  पर जाती है और आपकी site जल्दी open होती है। इससे डाटा travel होने में काम टाइम लगती है। और फ़ास्ट providing होती है जिससे आपके साइट तेज़ी से खुलने लगती है।

2) Why CDN is important and why we need it?

Mostly हम website और Blog के लिए किसी न किसी share hosting का उसे करते है। और hostgatar ,bluehost godaddy Wpengine और other hosting providing कंपनी पर अपनी साइट को होस्ट करते है। इन सभी का एक ही डाटा सेण्टर होता है और हमारी साइट को एक ही लोकेशन से होस्ट किया जाता है। इसलिए जब भी कोई हमारी साइट को open करते है तो उसकी request एक ही डाटा सेण्टर पर जाती है ,जिससे साइट slow खुलती है। जैसे 
i) With CDN
 अगर आप कोई CDN यूज़ करते है तो जब भी कोई यूजर आपकी साइट को ओपन करता है तो उसकी request उसके आसपास वाले डाटा सेण्टर पर जायेगा जिससे Short Distance  होने से डाटा send होने में कम टाइम लगेगा और आपकी site  Fast  खुलेगी। 
ii ) Without CDN
 मान लीजिए आप CDN use नहीं करते है तो आपकी साइट एक लोकेशन पर host होगी और जब कोई साइट को ओपन करेंगे तो उसकी request एक ही location से handle hogi जिसमे डाटा send करने में टाइम लगेगा और आपकी साइट slow ओपन होगी।


3 )Which CDN use?
MaxCDN और Cloudflare जैसी बहुत सी कंपनी फ्री और Paid CDN सर्विस Provide करती है। जैसे की में cloudflare की फ्री सर्विस को use करते है। Popularity के हिसाब से MaxCDN ज्यादा Popular हैं और इसके लिए आपको इसका कोई प्लान purchased होगा। में आपको suggest करूँगा की पहले आप cloudflare का plan try कर के देखने के बाद में आप paid प्लान buy कर सकते है। इसके बारे में हम दूसरी पोस्ट में बात करेंगे।

4) What is the benefit of using your CDN on your website?
ऊपर दी गई information से आपको थोड़ा पता चल ही गया होगा की Content Delivery Network को इस्तेमाल करने से आपकी साइट को क्या क्या फायदा होगा और फिर भी में आपको यह कुछ पॉइंट्स भी बता देता हु की CDN USE करने से क्या क्या फायदा होती है।
1 ) Increase search Ranking
Website की स्पीड तेज़ होगी तो Googlebot आपकी साइट को जल्दी index करेगा। Google ने ये बात बहुत ही पहले clear कर दी थी की fast loading साइट google search engine में fast index होती है और इससे search इंजन से ज्यादा ट्रफ़फ़िके मिलता है।
2) Website Loading Speed 
CDN ( Content Delivery Network ) use करने से आपके साइट स्पीड up होगी और आपकी रीडर आपकी साइट को ज्यादा पसंद करेंगे। 90 % user को fast traffic मिलेगा और लोग आपकी साइट पर दुसरो की तुलना में ज्यादा visit करना पसंद करेगा।
3) Bounce Rate 
Blog को Fast open न होने की वजह से visitor आपकी साइट को homepage या किसी भी पेज को open करके छोड़ जाता है। इससे आपकी साइट की bounce रेट बढ़ जाती। Bounce का ज्यादा होने से SEO के लिए अच्छा नहीं होती है इसलिए आप CDN यूज़ करके अपनी साइट की स्पीड बढ़ा सकते है। इससे आपकी SITE की Bounce Rate काम होती है।
4) More Earning 
जिससे की मैंने आपको ऊपर बताया है की Content delivery network ( CDN )यूज़ करने से आपकी SITE पर Affiliate marketing ADS और दूसरा ADS Fast Open होगा। जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा ads click मिलेंगे और आपकी ज्यादा इनकम होगी। अगर आप AdSense user है तो मई आपको suggest करूँगा की आप अपनी साइट के लिए एक बार जरूर try करे और इसका परिणाम खुद देखे।
5 )Handle More Traffic 
Hosting Server एक ही location से साइट को होस्ट करता है लकिन Content Delivery Network ( CDN )Network के geographical location पर डाटा सर्वर होती है। जिससे आपकी साइट फ़ास्ट ओपन होती है। दूसरा difference location पर डाटा server होने की wajah से आपकी साइट पर ज्यादा traffic control hoga .
               Finally ,उम्मीद करता हु आपको इस पोस्ट को पढ़ने के बाद CDN ( Content Delivery Network )के बारे में अच्छी information  मिलेगी और अब आप CDN के बारे में बहुत कुछ जान चुके होंगे तो अब मुझे Comment में बताइये की आपको इस Post  को पढ़ने के बाद क्या समझ आया और क्या नहीं। और आने वाले time में किस CDN ( Content Delivery Network )service को इस्तेमाल करने वाले है।


      RELATED POST

Top 10 Blogging Template Website S.E.O And Mobile Friendly

➽Bloggers for Best Free Keyword Research Tools in 2018













No comments:

Post a Comment

Featured Post

Incognito Mode /incognito mode android Kya Hai Aur Yah Kaise Kam Karta Hai

incognito mode kya hai? Incognito Mode /incognito mode android kaise kaam karta hai? browser me Incognito Mode /incognito mode android enab...